साइन इन | रजिस्टर

स्टॉक्स फंड्स एफ&ओ कमोडिटी

वर्ल्ड इकोनॉमी के Covid के झटके से उबरने के मिल रहे संकेत: RBI गवर्नर

22 सितम्बर 2021, 05:14 PM

वर्ल्ड इकोनॉमी के Covid के झटके से उबरने के मिल रहे संकेत: RBI गवर्नर

आज 48वें एआईएमए नेशनल मैनेजमेंट कन्वेंशन (AIMA National Management Convention) में बोलते हुए RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि इस बात के संकेत मिल रहें हैं कि दुनियाभर की इकोनॉमी करोना महामारी के झटके से उबर रही है। उन्होंने आगे कहा कि करोना महामारी हमारे युग की सबसे बुरी घटनाओं में से एक है। इसने दुनिया भर में भारी तबाही फैलाई। इसने दुनियाभर में जानमाल और आजीविका के साधनों को भारी नुकसान पहुंचाया है। दुनिया में इस तरह के संकट के बहुत ही कम उदाहरण मिलते हैं।

इस संबोधन में उन्होंने आगे कहा कि इस महामारी में दुनिया की इकोनॉमी पर बहुत गहरे घाव छोड़े हैं। इसकी वजह से समाज का गरीब तबका सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है। उन्होंने आगे कहा कि भारत के फाइनेंशिल सिस्टम ने जरूरत के हिसाब से अपने में बड़ी तेजी से बदलाव किया है। उन्होंने ये भी कहा कि कोरोना के बाद इकोनॉमी में हो रही रिकवरी एक समान नहीं रही है।

उन्होंने ये भी कहा कि प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेन्टिव स्कीम (Production linked incentive (PLI) देश में मैन्यूफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए काफी अहमियत रखती है। ये जरूर की इस स्कीम के दायरे में आने वाली कंपनियां और सेक्टर अपनी क्षमता में और सुधार के लिए इस स्कीम का सही तरीके से उपयोग करें। उन्होंने ये भी कहा कि कोरोना की बाद की स्थिति में और बेहतर तकनीकों की जरूरत होगी।

इस संबोधन में उन्होंने आगे कहा कि किसी देश की इकोनॉमी  में बेहतरी के लिए मजबूत और बेहतर फाइनेंशियल सिस्टम की अहम भूमिका होती है। भारत के फाइनेंशियल सिस्टम ने देश की बदलती जरूरतों को पूरा करने के लिए अपने में व्यापक बदलाव किए हैं।  उन्होंने आगे कहा कि अब तक बैंकों ने देश में क्रेडिट के मूल आधार की भूमिका निभाई है लेकिन अब एनबीएफसी भी देश के फंडिंग चैनल में अहम भूमिका निभा रहे हैं। 

NBFCs और mutual funds जैसे नान-बैंकिंग फाइनेंशियल इंटरमीडियरीज के असेट में लगातार बढ़त देखने को मिल रही है। इसके साथ ही कॉर्पोरेट बॉन्डों जैसे मार्केट इंस्ट्रूमेंट से होने वाली फंडिंग में भी बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है। ये देश के फाइनेंशियल सिस्टम में आ  रही परिपक्वता का संकेत है।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें

« पिछला अगला   »
बड़ी खबरें»
Top 10 में से 8 के मार्केट कैप में 1.52 लाख करोड़ रुपये का उछाल, जानिए किस कंपनी को हुआ सबसे ज्यादा फायदा   Top 10 में से 8 के मार्केट कैप में 1.52 लाख करोड़ रुपये का उछाल, जानिए किस कंपनी को हुआ सबसे ज्यादा फायदा
J&K में आतंकियों ने की बिहार के 2 मजदूरों की गोली मारकर हत्या, 2 दिनों में 4 गैर-स्थानीय मजदूरों की मौत J&K में आतंकियों ने की बिहार के 2 मजदूरों की गोली मारकर हत्या, 2 दिनों में 4 गैर-स्थानीय मजदूरों की मौत
कंगाल पाकिस्‍तान को बड़ा झटका, एक अरब डॉलर के लोन पर IMF और इमरान सरकार के बीच नहीं बनी बात कंगाल पाकिस्‍तान को बड़ा झटका, एक अरब डॉलर के लोन पर IMF और इमरान सरकार के बीच नहीं बनी बात
Air India ने कहा- वरिष्ठ अधिकारियों की मंजूरी के बाद ही होगी एयरक्राफ्ट के मंहगे पार्ट्स की खरीद Air India ने कहा- वरिष्ठ अधिकारियों की मंजूरी के बाद ही होगी एयरक्राफ्ट के मंहगे पार्ट्स की खरीद
कांग्रेस के लिए काम करने वाली डिजिटल कंपनी पर IT की छापेमारी में बेहिसाब निवेश का खुलासा कांग्रेस के लिए काम करने वाली डिजिटल कंपनी पर IT की छापेमारी में बेहिसाब निवेश का खुलासा