साइन इन | रजिस्टर

स्टॉक्स फंड्स एफ&ओ कमोडिटी

सेंसेक्स 8 महीने में 10,000 अंक चढ़ा, इस दौरान 42 स्टॉक बने मल्टीबैगर

24 सितम्बर 2021, 05:00 PM

सेंसेक्स 8 महीने में 10,000 अंक चढ़ा, इस दौरान 42 स्टॉक बने मल्टीबैगर

24 सितंबर में यानी आज के कारोबार में सेंसेक्स पहली बार 60,000 के पार बंद होने में कामयाब रहा है। आज के कारोबार में ऑटो को छोड़कर सभी सेक्टरों में जोरदार खरीदारी देखने को मिली। चीन के एवरग्रांडे क्राइसेस के हल्के पड़ने के साथ ही लोगों में जोखिम उठाने की इच्छा बढ़ती दिखी जिसके चलते बाजार नई ऊंचाई छूता नजर आया।

कोविड क्राइसिस के बाद अप्रैल 2020 से बाजार में रिकवरी आती दिखी है और इसमें बीच-बीच में कंसोलिडेशन और हल्के करेक्शन के साथ मजबूती कायम रही है। यह बाजार के लिए एक अच्छा संकेत है।

इकोनॉमी को पटरी पर लाने के लिए आरबीआई और सरकार द्वारा उठाए गए तमाम कदम निम्न ब्याज दरें कंपनियों के अच्छे नतीजे, इकोनॉमी में आ रहा सुधार, वैक्सीनेशन में आई तेजी और जोरदार ग्लोबल लिक्विडिटी के चलते बाजार पिछली कई तिमाहियों से कुलाचें भरता नजर आ रहा है।

इसी साल 21 जनवरी को पहली बार सेंसेक्स ने 50,000 का स्तर छुआ था। उसके बाद 60,000 तक पहुंचने में सेंसेक्स को आठ महीने लग गए। दूसरी तरफ निफ्टी भी आज 17,947.65 का नया हाई हिट करने के बाद 18,000 की तरफ जाता दिख रहा है।

इस शेयर ने एक साल में दिया 4 गुना मुनाफा, एनालिस्ट से जानिए अभी कितना बाकी है दम

कोटक सिक्योरिटीज के श्रीकांत चौहान का कहना है कि सेंसेक्स का 60,000 का स्तर छूना भारत के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। उस समय जब पूरी दुनिया में अनिश्चितता व्याप्त है, ऐसे में यह उपलब्धि और बड़ी हो जाती है।



सेंसेक्स की 50,000 से 60,000 की जर्नी में गेनरों पर नजर डालें तो BSE 500 इंडेक्स में शामिल 42 स्टॉक ऐसे रहे हैं जो इस आठ महीने की अवधि में मल्टीबैगर साबित हुए हैं। इन स्टॉक्स में इस अवधि में 150-370 फीसदी की बढ़त देखने को मिली।

इनमें JSW Energy, Balaji Amines, Happiest Minds Technologies, Adani Total Gas, Adani Transmission, Linde India, Gujarat Fluorochemicals, Adani Enterprises, Mindtree, Deepak Fertilizers, IRCTC और KPIT Technologies के नाम शामिल हैं।

इसके अलावा Indian Energy Exchange, Deepak Nitrite, IIFL Finance, DCM Shriram, Persistent Systems, KPR Mill, HEG, HFCL, Lux Industries, Century Textiles जैसे ऐसे शेयर हैं जिनमें इस अवधि में 100-149 फीसदी की बढ़त देखने को मिली।

एनालिस्ट का कहना है कि आगे कंपनियों के नतीजे और इकोनॉमी के आंकड़े बाजार को सपोर्ट करेंगे। अगर बाजार में कोई गिरावट आती  है तो इसकी वजह घरेलू न होकर ग्लोबल होगी। बाजार दिग्गजों का यह  मानना है कि बाजार ने यूएस फेड की बॉन्ड खरीद योजना की कटौती में लेकर कोई डर नहीं है। श्रीकांत चौहान का भी कहना है कि आने वाले महीनों में कंपनियों के अच्छे नतीजे बाजार को सपोर्ट देंगे।

चौहान का कहना है कि निवेशकों  को सलाह होगी कि वो अच्छे प्रबंधन और मजबूत फंडामेंटल वाली कंपनियों में ही लॉन्ग और मीडियम टर्म के नजरिए से खरीदारी करें। यह भी सलाह होगी कि एक या दो बार में ही अपना सारा पैसा न लगाएं, बल्कि रुक-रुक कर गिरावट में क्वालिटी शेयरों में खरीद की रणनीति अपनाएं।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।

« पिछला अगला   »
बड़ी खबरें»
Trade setup for today:बाजार खुलने के पहले इन आंकड़ों पर डालें एक नजर, मुनाफे वाले सौदे पकड़ने में होगी आसानी Trade setup for today:बाजार खुलने के पहले इन आंकड़ों पर डालें एक नजर, मुनाफे वाले सौदे पकड़ने में होगी आसानी
Buzzing Stocks- आज सुर्खियों और फोकस में रहने वाले Asian Paints, PNB Housing, Mindtree और अन्य स्टॉक्स Buzzing Stocks- आज सुर्खियों और फोकस में रहने वाले Asian Paints, PNB Housing, Mindtree और अन्य स्टॉक्स
Market Live: SGX NIFTY दे रहा संकेत , फ्लैट हो सकती है भारतीय बाजार की शुरुआत Market Live: SGX NIFTY दे रहा संकेत , फ्लैट हो सकती है भारतीय बाजार की शुरुआत
भारत आने वाले विदेशी सैलानियों के लिए 25 अक्टूबर से नए गाइडलाइंसल होंगे लागू, चेक कीजिए डिटेल्स भारत आने वाले विदेशी सैलानियों के लिए 25 अक्टूबर से नए गाइडलाइंसल होंगे लागू, चेक कीजिए डिटेल्स
Business Idea: नौकरी के साथ शुरू करें यह बिजनेस, सिर्फ 15 मिनट निकालना है टाइम, हर महीने होगी मोटी कमाई  Business Idea: नौकरी के साथ शुरू करें यह बिजनेस, सिर्फ 15 मिनट निकालना है टाइम, हर महीने होगी मोटी कमाई