साइन इन | रजिस्टर

स्टॉक्स फंड्स एफ&ओ कमोडिटी

सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्त एमिकस क्यूरी हरीश साल्वे ने कोविड मामले से खुद को किया अलग

23 अप्रैल 2021, 03:02 PM

सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्त एमिकस क्यूरी हरीश साल्वे ने कोविड मामले से खुद को किया अलग

वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे (Harish Salve) ने कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर ऑक्सीजन की आपूर्ति, आवश्यक दवाइयों की आपूर्तियों, वैक्सीन नीति से संबंधित मुद्दों पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा लिए गए स्वत: संज्ञान मामले में एमिकस क्यूरी (Amicus Curiae) बनने से खुद को अलग कर लिया है। सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने साल्वे को एमिकस क्यूरी के तौर पर हटने की शुक्रवार को अनुमति दे दी।

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एस ए बोबडे (Chief Justice of India S A Bobde), जस्टिस एल नागेश्वर राव और जस्टिस एस आर भट की तीन सदस्यीय पीठ ने गुरुवार के आदेश को पढ़े बिना ही बयान देने के लिए कुछ वरिष्ठ वकीलों को फटकार लगाई और कहा कि उसने देश में कोविड-19 प्रबंधन से जुड़े मामलों की सुनवाई करने से हाई कोर्टों को नहीं रोका है।

CJI बोबडे आज ही इस पद से रिटायर हो रहे हैं। चीफ जस्टिस की अध्यक्षता वाली इस पीठ ने इस स्थिति पर अप्रसन्नता व्यक्त की। केंद्र को अपना जवाब दाखिल करने के लिए और वक्त देने के साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने इसे सुनवाई के लिए 27 अप्रैल को सूचीबद्ध कर दिया। मामले में पेश हुए वरिष्ठ वकील दुष्यंत दवे से पीठ ने कहा कि आपने हमारा आदेश पढ़े बिना ही हमपर आरोप लगाया है।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हमें भी यह जानकार बहुत दुख हुआ कि मामले में साल्वे को एमिकस क्यूरी नियुक्त किए जाने पर कुछ वरिष्ठ वकील क्या कह रहे हैं। साथ ही कहा कि यह पीठ में शामिल सभी जजों का सामूहिक निर्णय था। साल्वे ने कहा कि यह बेहद संवेदनशील मामला है और वह नहीं चाहते कि मामले के फैसले को लेकर यह कहा जाए कि वह CJI को स्कूल और कॉलेज के दिनों से जानते हैं।

सॉलीसीटर जनरल तुषार मेहता ने साल्वे से एमिकस क्यूरी के रूप में मामले से नहीं हटने का आग्रह किया और कहा कि किसी भी दबाव की इन युक्तियों के आगे हार नहीं माननी चाहिए। देश में कोविड-19 के बढ़ते मामलों और मौतों की गंभीर स्थिति पर गौर करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को कहा था कि वह चाहती है कि केंद्र सरकार मरीजों के लिए ऑक्सीजन और अन्य जरूरी दवाओं के उचित वितरण के लिए एक नेशनल प्लान लेकर आए।

सुप्रीम कोर्ट ने मौजूदा स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए कल टिप्पणी की थी कि कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए ऑक्सीजन को एक आवश्यक हिस्सा कहा जाता है और ऐसा प्रतीत होता है कि कुछ हद तक घबराहट पैदा हुई, जिसके कारण लोगों ने कई हाई कोर्ट से संपर्क किया है। देश में शुक्रवार को एक दिन में रिकॉर्ड 3,32,730 नए मामले सामने आए। इसके साथ ही देश में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,62,63,695 हो गए।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार तक के आंकड़ों के मुताबिक, 24 लाख से अधिक लोग अब भी संक्रमण की चपेट में हैं, जबकि 2,263 और लोगों की मौत होने के बाद मृतकों की संख्या 1,86,920 पर पहुंच गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शुक्रवार को कोरोना वायरस की ताजा लहर में सबसे अधिक प्रभावित 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए चर्चा कर महामारी की मौजूदा स्थिति की समीक्षा की।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.

« पिछला अगला   »
बड़ी खबरें»
ABCL को एक तिमाही में अब तक का सबसे तगड़ा मुनाफा, नेट प्रॉफिट 2.6 गुना बढ़कर 375 करोड़ हुआ ABCL को एक तिमाही में अब तक का सबसे तगड़ा मुनाफा, नेट प्रॉफिट 2.6 गुना बढ़कर 375 करोड़ हुआ
Taking Stock: उतार-चढ़ाव के बीच बाजार सपाट बंद हुआ, FMCG स्टॉक्स ने किया आउटपरफॉर्म, मेटल फिसले Taking Stock: उतार-चढ़ाव के बीच बाजार सपाट बंद हुआ, FMCG स्टॉक्स ने किया आउटपरफॉर्म, मेटल फिसले
DR REDDYS Q4:मुनाफा 27.6 फीसदी गिरकर 560 करोड़ रु पर रहा, 25 रुपए प्रति इक्विटी शेयर डिविडेंड का एलान DR REDDYS Q4:मुनाफा 27.6 फीसदी गिरकर 560 करोड़ रु पर रहा, 25 रुपए प्रति इक्विटी शेयर डिविडेंड का एलान
WHO की अमीर देशों से अपील, बच्चों को कोविड का टीका लगाने के बदले गरीब देशों को दान में दें वैक्सीन WHO की अमीर देशों से अपील, बच्चों को कोविड का टीका लगाने के बदले गरीब देशों को दान में दें वैक्सीन
Hot Stocks: Asian Paints के शेयर आज 10% उछले, जानें ब्रोकरेज ने कितना दिया टार्गेट प्राइस Hot Stocks: Asian Paints के शेयर आज 10% उछले, जानें ब्रोकरेज ने कितना दिया टार्गेट प्राइस