साइन इन | रजिस्टर

स्टॉक्स फंड्स एफ&ओ कमोडिटी

Benchmark Indices के मुकाबले ऐसेट मैनेजमेंट कंपनियों के Stocks मार्च से ही कर रहे अंडरपरफॉर्म, क्या करें निवेशक?

20 फ़रवरी 2021, 02:21 PM

Benchmark Indices के मुकाबले ऐसेट मैनेजमेंट कंपनियों के Stocks मार्च से ही कर रहे अंडरपरफॉर्म, क्या करें निवेशक?
स्टॉक मार्केट में मार्च लो (March Low) के बाद से जबरदस्त तेजी आई है। March low के बाद से अब तक सेंसेक्स और निफ्टी जैसे बेंचमार्क सूचकांक (Benchmarks indices) में लगभग दोगुनी तेजी आई है, लेकिन इस दौरान ऐसेट मैनेजमेंट कंपनियों (AMCs) के स्टॉक्स अंडरफरफॉर्मर रहे हैं। HDFC AMC के स्टॉक्स में मार्च, 2020 की गिरावट के बाद से अब तक 44.8% की तेजी आई और 2021 में कंपनी के स्टॉक्स में केवल 0.56% की बढ़ोतरी हुई है। जबकि इस दौरान बेंचमार्क इंडेक्स Nifty50 में 96.93% की तेजी आई है और इस साल अब तक निफ्टी 50 7.15% से अधिक चढ़ चुकी है।

इसी तरह निप्पोन लाइफ इंडिया एएमसी (Nippon Life India AMC) के स्टॉक्स में मार्च लो के बाद से 55.2% की तेजी आई है। हालांकि, कंपनी के स्टॉक्स 2021 में 12.16% चढ़े हैं। साथ ही UTI AMC के स्टॉक्स अक्टूबर, 2020 में अपनी लिस्टिंग के बाद से केवल 5% चढे हैं। आमतैर पर जब बाजार में तेजी का रुफ रहता है तब AMC Stocks में बूम आनी चाहिए लेकिन ऐसा नहीं हुआ है। मार्केट एक्सपर्ट्स का कहना है कि पिछले 7 महीनों में म्यूचुअल फंड्स (Mutual Funds) द्वारा इक्विटी स्कीम्स से पैसे निकासी के कारण AMC Stocks अंडरपरफॉर्मर रही है।

कंपनियों के स्टॉक्स मार्केट में अंडरपरफॉर्मर ही रहेंगे

HDFC सिक्योरिटीज के रिटेल रिसर्च के हेड दीपक जशानी ने कहा कि MFs द्वारा लगातार आउटफ्लो को कारण AMCs कम आकर्षक हुए हैं। उन्होंने कहा कि अगर AMCs तेजी से ग्रोथ नहीं करते हैं और म्यूचुअल फंड्स का आउटफ्लो ऐसे ही जारी रहता है तो AMCs का मुनाफा स्थिर हो जाएगा और इन कंपनियों के स्टॉक्स मार्केट में अंडरपरफॉर्मर ही रहेंगे। उन्होंने कहा कि म्यूचुअल फंड स्कीम्स भी बेंचमार्क इंडेक्स के परफॉर्मेंस को पीछे छोड़ने में कामयाब नहीं हुए हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि पिछली 3 तिमाहियों में AMCs के रेवेन्यू और ऑपरेटिंग प्रॉफिट का ग्रोथ कम हुआ है।

HDFC AMC के यील्ड में कमी आई

Kotak सिक्योरिटीज के हेड ऑफ फंडामेंटल रिसर्च रुष्मिक ओजा (Rusmik Oza) ने कहा कि HDFC AMC के यील्ड में कमी आई है। वर्ष 2016 में यह 77 बेसिस प्वाइंट थी जो 2020 में घटकर 59 बेसिस प्वाइंट रह गई है। उन्होंने कहा कि अबी इसमें और गिरावट आ सकती है। साथ ही कंपनी की इनकम भी स्टेबल नहीं रहने की आशंका है। उन्होंने कहा कि HDFC AMC के शेयर अभी अपने वन ईयर फॉरवर्ड प्राइस अर्निंग्स के 42.1 गुना पर ट्रेड कर रहे हैं।

अर्निंग ग्रोथ के मुकाबले ऊंची कीमतों पर ट्रेड कर रहे

वहीं, Nippon Life India AMC के स्टॉक्स 34.2 गुना और UTI AMC के स्टॉक्स 13 गुना पर ट्रेड कर रहे हैं। जबकि निफ्टी वन ईयर फॉरवर्ड पीई 21.29 गुना पर ट्रेड कर रही है। रुष्मिक ओजा ने कहा कि अर्निंग ग्रोथ के मुकाबले AMCs के स्टॉक्स ऊंची कीमतों पर ट्रेड कर रहे हैं। ICICI सिक्योरिटीज की रिपोर्ट में कहा गया है कि शॉर्ट टर्म चैलेंज के बावजूद AMC के स्टॉक्स आकर्षक निवेश के विकल्प हैं। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि इंडस्ट्री में डबल डिजिट ग्रोथ की संभावना है। भारतीय MF AMU का अनुमानित ग्रोथ FY20 से FY30 के बीच 15% CAGR रहने का अनुमान है। 

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।
« पिछला अगला   »
बड़ी खबरें»
Nifty जल्द करेगा 15400 की तरफ रुख, ICICIdirect के 20 मिड और लार्ज कैप शेयर जो करा सकते हैं मोटी कमाई Nifty जल्द करेगा 15400 की तरफ रुख, ICICIdirect के 20 मिड और लार्ज कैप शेयर जो करा सकते हैं मोटी कमाई
राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियों में शामिल इस फार्मा शेयर को दिग्गजों की thumbs up, क्या है आपके पास राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियों में शामिल इस फार्मा शेयर को दिग्गजों की thumbs up, क्या है आपके पास
Taking Stock | आरबीआई ने बाजार में भरा जोश, pharma शेयरों को लगे पंख Taking Stock | आरबीआई ने बाजार में भरा जोश, pharma शेयरों को लगे पंख
सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार की चेतावनी, कोरोना महामारी की तीसरी लहर भी आएगी सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार की चेतावनी, कोरोना महामारी की तीसरी लहर भी आएगी
IDBI बैंक के डिसइन्वेस्टमेंट और मैनेजमेंट के ट्रांसफर को कैबिनेट की मंजूरी IDBI बैंक के डिसइन्वेस्टमेंट और मैनेजमेंट के ट्रांसफर को कैबिनेट की मंजूरी