साइन इन | रजिस्टर

स्टॉक्स फंड्स एफ&ओ कमोडिटी

म्यूचुअल फंड्स ने जनवरी में IPOs में डाले 1200 करोड़ रुपए, IRFC रहा सबसे बड़ा गेनर

15 फ़रवरी 2021, 04:14 PM

म्यूचुअल फंड्स ने जनवरी में IPOs में डाले 1200 करोड़ रुपए, IRFC रहा सबसे बड़ा गेनर

म्युचुअल फंड्स ने जनवरी में प्राथमिक बाजार में जोरदार खरीदारी की। इस अवधि के दौरान इन्होंने अलग-अलग आईपीओ में 1200 करोड़ रुपए खर्च किए। इस 1200 करोड़ रुपए में से सवसे बड़ा हिस्सा  Indian Railway Finance Corporation (IRFC) के हाथ आया। इस आईपी में एमएफ ने जनवरी 2021 में 927 करोड़ रुपए डाले। इसके बाद 140 करोड़ रुपये इंडिगो पेंट के हिस्से में आए। जबकि होम फर्स्ट के IPO में 120 करोड़ का निवेश किया गया। ये आंकड़े Edelweiss के पेपर पर आधारित हैं।

IRFC, HCL Technologies, Axis Bank, Asian Paints, Larsen & Toubro और HDFC ऐसे शेयर रहे जिसमें म्यूचुअल फंडों ने जनवरी में जोरदार खरीदारी की। वहीं दूसरी तरफ Reliance Industries, Infosys, Bharti Airtel, Power Grid Corporation और TCS में बिकवाली देखने को मिली।

म्यूचु्ल फंड टेलीकॉम दिग्गज भारती एयरटेल में नेट सेलर रहे। जबकि FPI ने जनवरी महीने में टेलीकॉम सेक्टर में अपना निवेश बढ़ाया। इक्विटी म्यूचुअल फंड्स ने जनवरी में 9253 करोड़ रुपये की बिकवाली की। यह इक्विटी में बिकवाली का लगातार सातवां महीना रहा। इसकी मुख्य वजह हाल ही में बनाए गए फ्लेक्सी फंड कैटेगरी में आई बड़ी निकासी रही।

एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड इन इंडिया के आंकड़ों के मुताबिक, निवेशकों ने दिसंबर में 13863 करोड़ रुपये निवेश करने के बाद जनवरी में डेट फंडों से भी 35904 करोड़ रुपये की बिकवाली की। जनवरी म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री में सभी सेगमेंट्स में 3586 करोड़ रुपये की निकासी देखने को मिली। जबकि दिसंबर में हाइब्रिड और दूसरे स्कीमों में 2968 करोड़ रुपये का इनफ्लो देखने को मिला था।

पिछले 3 महीनों में म्यूचुअल फंडों ने 70,000 करोड़ रुपये की भारतीय इक्विटीज बेची हैं। 31 अक्टूबर 2020 से 10 फरवरी 2021 के बीच बेंचमार्क इंडेक्स निफ्टी TRI में 30 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली है। जबकि 10 इक्विटी म्य़ूचुअल फंड स्कीम्स ने 45 फीसदी का रिटर्न दिया है। इसमें 2 स्कीम यूटीआई और ICICI AMC से संबंधित हैं।

Narnolia Financial Advisors का कहना है कि भाकरतीय बाजारों में रिकॉर्ड हाई देखने को मिले हैं और म्यूचुअल फंडों की यह बिकवाली मुनाफा वसूली के कारण आई है। SIP के जरिए होने वाला निवेश पिछले महीने की तुलना में कम रहा है। लेकिन अभी 8000 करोड़ रुपये के ऊपर बना हुआ है। यह SIP मार्केट में मामूली नरमी के संकेत हैं और ये आंकड़े आने वाले कुछ महीनों में स्थिर हो जाएंगे। नॉरमोली फाइनेंशियल एडवाइजर्स ने आगे कहा है कि पिछले 3 महीनों में तमाम फंडों ने अपने आपको सेबी के मल्टी कैप फंडों से संबंधित नियमों का पालन करने के लिए अपने आपको मल्टी कैप से फ्लेक्सी कैप में रीकैटेगराइज किया है।

खुलासा: यह रिपोर्ट पब्लिक प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध जानकारी के आधार पर बनाई गई है। मनीकंट्रोल की यूजर्स को सलाह है कि कोई निवेश लेने के पहले सार्टिफाइड एक्सपर्ट की राय लें।

खुलासा: रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड इंडिपेंडेंट मीडिया ट्रस्ट की सोल बेनिफिशियरी है। जिसके पास नेटवर्क 18 मीडिया और इन्वेस्टमेंट लिमिटेड मालिका हक है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।

« पिछला अगला   »
बड़ी खबरें»
Charanjit Singh Channi: जानें कौन हैं चरणजीत सिंह चन्नी, जिन्हें कांग्रेस ने दी पंजाब की बागडोर Charanjit Singh Channi: जानें कौन हैं चरणजीत सिंह चन्नी, जिन्हें कांग्रेस ने दी पंजाब की बागडोर
Top 10 कंपनियों में से 4 के मार्केट कैप में 65,464 करोड़ रुपये बढ़े, Airtel और SBI को सबसे ज्यादा फायदा Top 10 कंपनियों में से 4 के मार्केट कैप में 65,464 करोड़ रुपये बढ़े, Airtel और SBI को सबसे ज्यादा फायदा
IPL 2021: आज से IPL पार्ट-2 की शुरूआत! पहले मैच में मुंबई और चेन्नई में भिड़ंत, जानें सभी डिटेल IPL 2021: आज से IPL पार्ट-2 की शुरूआत! पहले मैच में मुंबई और चेन्नई में भिड़ंत, जानें सभी डिटेल
Delhi-Mumbai Expressway से सरकार को हर महीने होगी 1,000 से 1,500 करोड़ रुपये की कमाई – नितिन गडकरी Delhi-Mumbai Expressway से सरकार को हर महीने होगी 1,000 से 1,500 करोड़ रुपये की कमाई – नितिन गडकरी
चरणजीत सिंह चन्नी होंगे पंजाब के नए मुख्यमंत्री, सोमवार सुबह 11 बजे लेंगे शपथ चरणजीत सिंह चन्नी होंगे पंजाब के नए मुख्यमंत्री, सोमवार सुबह 11 बजे लेंगे शपथ