साइन इन | रजिस्टर

स्टॉक्स फंड्स एफ&ओ कमोडिटी

डिजिटल मीडिया में अक्टूबर 2021 से पहले विदेशी निवेश 26 फीसदी से कम करना होगा, सरकार ने तय की डेडलाइन

16 नवम्बर 2020, 08:25 PM

डिजिटल मीडिया में अक्टूबर 2021 से पहले विदेशी निवेश 26 फीसदी से कम करना होगा, सरकार ने तय की डेडलाइन

सरकार (Central Government) का कहना है कि डिजिटल मीडिया कंपनियों (Digital Media Companies) में विदेशी निवेश 26 फीसदी से ज्यादा नहीं की जाएगी। ऐसी डिजिटल मीडिया कंपनियां जिनमें विदेशी निवेश 26 फीसदी से ज्यादा है, उन्हें कम करके इसे 26 प्रतिशत पर लाना होगा। इसके लिए सरकार ने अगले साल यानी अक्टूबर 2021 तक का समय दिया है। हिंदुस्तान टाइम्स (Hindustan Times) की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में विदेशी फंडिंग को लेकर सोमवार को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की तरफ से जारी आदेश के मुताबिक, जिन डिजिटल मीडिया कंपनियों में 26 फीसदी से ज्यादा का विदेशी निवेश है, उन्हें वह घटाने के लिए अक्टूबर 2021 का समय दिया गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, डिजिटल मीडिया कंपनियां जो समाचार और करेंट अफेयर्स के सेगमेंट में शामिल हैं, उन्हें इसका पालन करना होगा। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की ओर जारी आदेश के मुताबिक इस तरह की कंपनियों को भारत के विदेशी फंडिंग के नियमों का पालन करना होगा। आदेश के मुताबिक जिन कंपनियों में 26 फीसदी से ज्यादा हिस्सेदारी होगी उन्हें इसे कम करना होगा। जिन कंपनियों में 26 फीसदी से कम विदेशी हिस्सेदारी है, उन्हें इससे संबंधित पूरा डिटेल्स एक महीने के अंदर देना होगा। उन्हें अन्य जानकारियां जैसे, डायरेक्टर, प्रमोटर्स और शेयरहोल्डर्स के बारे में भी बताना होगा।

सूचना प्रसारण मंत्रालय में अंडर सेक्रेटरी अमरेंद्र सिंह की तरफ से सोमवार को जारी आदेश में यह कहा गया है कि जिन संस्थानों में वर्तमान में विदेशी निवेश 26 फीसदी से ज्यादा का का हुआ है उन्हें भी वहीं जानकारियां एक महीने के अंदर देनी होगी और 15 अक्टूबर 2021 तक 26 फीसदी से निवेश कम करने के लिए आवश्यक कदम उठाने होंगे। इसके साथ ही, सूचना प्रसारण मंत्रालय से मंजूरी लेनी होगी। साथ ही कोई भी संस्था जो देश में देश में विदेशी निवेश लाना चाहती है उसे सबसे पहले विदेश निवेश फैसिलिटेशन पोर्टल डिपार्टमेंट फॉर प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड इटर्नल ट्रेड (DPIIT) के जरिए केंद्र सरकार से उसके लिए इजाजत लेनी होगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में केंद्रीय कैबिनेट की तरफ से न्यूज की अपलोडिंग, स्ट्रीमिंग और डिजिटल मीडिया पर दिए जा रहे करेंट अफेयर्स में विदेश निवेश की सीमा 26 फीसदी तय किए जाने के एक साल बाद सरकार का यह सार्वजनिक नोटिस जारी किया गया है। इससे पहले पिछले हफ्ते ही केंद्र सरकार ने डिजिटल मीडिया को रेगुलेशन के तहत लाने की बात कही थी। जिसके तहत Netflix और Amazon जैसे OTT प्लेटफॉर्म और ऑनलाइन न्यूज, करंट अफेयर्स और ऑडियो-विजुअल कंटेंट देने वाले डिजिटल प्लेटफॉर्म अब सरकार की निगरानी के दायरे में आएंगे।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।

« पिछला अगला   »
बड़ी खबरें»
पिछले 18 महीनों का रिटर्न अगले 36 महीनों में भी नहीं मिलेगा, उतारचढ़ाव के लिए रहें तैयार-नीलेश शाह पिछले 18 महीनों का रिटर्न अगले 36 महीनों में भी नहीं मिलेगा, उतारचढ़ाव के लिए रहें तैयार-नीलेश शाह
क्यों Sensex में आई आज 1100 से अधिक अंक की गिरावट? Nifty भी 2% लुढ़का क्यों Sensex में आई आज 1100 से अधिक अंक की गिरावट? Nifty भी 2% लुढ़का
माई नेम इज आर्यन खान! खबर के लिए सिर्फ नाम ही काफी? TRP के चक्कर में गुम हो रहे हैं जरूरी मुद्दे माई नेम इज आर्यन खान! खबर के लिए सिर्फ नाम ही काफी? TRP के चक्कर में गुम हो रहे हैं जरूरी मुद्दे
रेल मंत्रालय का फैसला, IRCTC अब सरकार को देगी Convenience Fee से मिलने वाली आधी कमाई रेल मंत्रालय का फैसला, IRCTC अब सरकार को देगी Convenience Fee से मिलने वाली आधी कमाई
Paytm IPO: 8 नवबंर को खुलेगा IPO, 2080-2150 रुपये रखा गया प्राइस बैंड, जानिए इस IPO से जुड़े सभी डिटेल्स Paytm IPO: 8 नवबंर को खुलेगा IPO, 2080-2150 रुपये रखा गया प्राइस बैंड, जानिए इस IPO से जुड़े सभी डिटेल्स