साइन इन | रजिस्टर

स्टॉक्स फंड्स एफ&ओ कमोडिटी

आज राज्य सभा में पेश होंगे किसान बिल, जानिए क्या है BJP की रणनीति

20 सितम्बर 2020, 08:16 AM

आज राज्य सभा में पेश होंगे किसान बिल, जानिए क्या है BJP की रणनीति

किसान सो जुड़े तीन विधेयकों (Farmers Bills) को राज्यसभा से पास कराना केंद्र सरकार के लिए बड़ी चुनौती बन गई है। इन विधेयकों को लेकर NDA गठबंधन की सबसे पुरानी सहयोगी अकाली दल के विरोध की वजह से सरकार के लिए सदन के अंदर और बाहर भारी विरोध का सामना करना पड़ रहा है। आज रविवार को ये बिल राज्यसभा में आएगा और सरकार की कोशिश होगी कि इन विधेयकों को हर हाल में पास करवा लिया जाए।

सरकार ने इन तीनों विधेयक को राज्य सभा में पास कराने के लिए सरकार ने मोर्चा बंदी शुरू कर दी है। BJP ने अपने सांसदों के लिए व्हिप भी जारी कर दिया है। इसके साथ सत्ता पक्ष ने इन विधेयकों को पास कराने के लिए विपक्षी दलों से भी बातचीत करना शुरू कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक सरकार की ओर से शिवसेना और NCP के नेताओं से भी संपर्क साधा गया है और बिल से जुड़ी उनकी शंकाओं को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। 245 सदस्यों वाली राज्य सभा में सरकार के पास बहुमत नहीं है। फिलहाल दो स्थान खाली हैं। ऐसे में बहुमत का आँकड़ा 122 है। BJP के पास 86 सासंद हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शिवसेना और NCP के नेताओं से फोन पर बातचीत की है और इन विधेयकों पर समर्थन करने की अपील की है। 

अकाली दल के विरोध के बावजूद सरकार को भरोसा है कि बीजू जनता दल के 9, AIADMK के 9, TRS के 7 और YSR कांग्रेस के 6, TDP के 1 और कुछ इंडिपेंडेंट सांसद भी इस विधेयक का समर्थन कर सकते हैं। ये वे पार्टियां है जो न तो NDA के साथ है और न UPA के साथ हैं। सरकार को भरोसा है कि इस विधेयक के समर्थन में कम से कम 130 से ज्यादा वोट पड़ेंगे।

राज्य सभा में 40 सांसदों वाली कांग्रेस दूसरी बड़ी पार्टी है जो विधेयकों के विरोध में है। UPA के अन्य दलों के सांसदों और TMC को मिला कर संख्या 85 के आसपास है। इनमें NCP के चार और शिवसेना के तीन सांसद भी हैं जिनसे, सरकार ने संपर्क साधा है। आम आदमी पार्टी के तीन सदस्य, समाजवादी पार्टी के आठ सांसद, BSP के चार सांसद भी बिल के विरोध में वोट करेंगे। बिल का विरोध कर रहे दलों का आंकलन करने पर राज्यसभा में 100 सांसदों के कृषि विधेयकों के विरोध में वोट करने का अनुमान है। 

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।

« पिछला अगला   »
बड़ी खबरें»
Farmer Protest: ट्रैक्टर परेड के लिए किसानों का रूट मैप तय, पुलिस को अलर्ट रहने के आदेश Farmer Protest: ट्रैक्टर परेड के लिए किसानों का रूट मैप तय, पुलिस को अलर्ट रहने के आदेश
BJP ही असम को भ्रष्टाचार मुक्त, आतंकवाद मुक्त और प्रदूषण मुक्त बना सकती है - अमित शाह BJP ही असम को भ्रष्टाचार मुक्त, आतंकवाद मुक्त और प्रदूषण मुक्त बना सकती है - अमित शाह
वादे से मुकर गया ड्रैगन, LAC पर चुपचाप बढ़ा दिया सैनिकों की तैनाती - रिपोर्ट वादे से मुकर गया ड्रैगन, LAC पर चुपचाप बढ़ा दिया सैनिकों की तैनाती - रिपोर्ट
अब वोटर ID भी होगा डिजिटल, सोमवार को इलेक्ट्रॉनिक वर्जन होगा लॉन्च अब वोटर ID भी होगा डिजिटल, सोमवार को इलेक्ट्रॉनिक वर्जन होगा लॉन्च
टॉप 10 कंपनियों में से 4 का m-cap 1.15 लाख करोड़ रु बढ़ा, जानिए किस कंपनी को हुआ सबसे बड़ा फायदा टॉप 10 कंपनियों में से 4 का m-cap 1.15 लाख करोड़ रु बढ़ा, जानिए किस कंपनी को हुआ सबसे बड़ा फायदा