साइन इन | रजिस्टर

स्टॉक्स फंड्स एफ&ओ कमोडिटी

E-Wallet में दोस्त ने पैसे ट्रांसफर किए तो क्या भरना पड़ेगा टैक्स?

14 जून 2019, 01:41 PM

डिजिटल इंडिया के जमाने में हम डिजिटल या ऑनलाइन वॉलेट का इस्तेमाल करने लगे हैं। ऐसे कई ऐप्स आ गए हैं, जो ऑनलाइन ट्रांजैक्शन बेस्ड सुविधाएं देते हैं। अब कहीं भी पेमेंट करना या दोस्त को पैसे चुकाना, किसी से पैसे लेने जैसी सुविधाओं के लिए हम ऑनलाइन पेमेंट ऐप्स का इस्तेमाल बहुत तेजी से करने लगे हैं।

लेकिन क्या आपको पता है कि इन ट्रांजैक्शन्स के दौरान हम पर टैक्स लगता है या नहीं, और अगर लगता है तो कितना लगता है?

मान लीजिए, आपके ई-वॉलेट में आपके किसी दोस्त ने पैसे ट्रांसफर किए तो क्या आपको पता है कि उस अमाउंट पर कितना टैक्स लगेगा? या लगेगा भी या नहीं?

फोन में ई-वॉलेट्स या यूपीआई के जरिए पैसे भेजना और रिसीव करना बहुत आसान है। मान लीजिए कि आपके एक दोस्त ने आपको कुछ उधारी चुकाई, तो इसपर टैक्स लगेगा या नहीं, ये इस बात पर निर्भर करता है कि ये अमाउंट कितना है।

ऐसे ट्रांजैक्शन या रिसीट्स गिफ्ट के तौर पर लिए जाते हैं। ऐसे गिफ्ट्स की कीमत अगर 50,000 तक की है, तो इसपर कोई टैक्स नहीं लगता। लेकिन अगर इससे ज्यादा बड़े अमाउंट का ट्रांजैक्शन किया जाता है तो वो पूरा अमाउंट टैक्स के दायरे में आता है।

अगर आपके ई-वॉलेट या सेविंग्स अकाउंट में आई ये रसीदें आपके दिए गए कर्ज को चुकाने के लिए की गई हैं, तो इनपर कोई टैक्स नहीं लगेगा। हालांकि, अगर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की तरफ से अगर इसपर कोई सवाल खड़ा किया जाता है, तो आप अपने कर्जदार से एक लिखित हलफनामा लेकर साबित कर सकते हैं कि ये ट्रांजैक्शन आपके कर्ज का सेटलमेंट था।

« पिछला अगला   »
बड़ी खबरें»
ED के निशाने पर NCP लीडर प्रफुल्ल पटेल, दाऊद के सहयोगी के साथ मनीलॉन्ड्रिंग का आरोप
बाजार ने लगाई तेजी की हैट्रिक, सेंसेक्स 290 अंक चढ़कर बंद
16 कंपनियों में बंद हो सकती है ट्रेडिंग, कंपनी की गलती की भरपाई क्यों करें निवेशक!
Ayodhya Land Case Verdict: SC ने डेडलाइन कम की, बुधवार तक खत्म करनी होगी सुनवाई
TV18 Broadcast और Network18 के नतीजे जारी, जानिए Q2 में कैसा रहा प्रदर्शन