साइन इन | रजिस्टर

स्टॉक्स फंड्स एफ&ओ कमोडिटी

टाटा मोटर्स को ₹1117.5 करोड़ का मुनाफा

20 मई 2019, 04:56 PM

वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में टाटा मोटर्स को 1,117.5 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है जबकि वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में कंपनी को 2,699 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। 

वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में टाटा मोटर्स की आय 3.9 फीसदी घटकर 86,422 करोड़ रुपये पर रहा है जबकि वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में कंपनी की आय 89,929 करोड़ रुपये रहा था।

सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में टाटा मोटर्स की एबिटडा 9,900.1 करोड़ रुपये से घटकर 8,449.5 करोड़ रुपये रहा है। साल दर साल आधार पर चौथी तिमाही में कंपनी की एबिटडा मार्जिन 11 फीसदी से घटकर 9.8 फीसदी पर रही है।

वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में टाटा मोटर्स का स्टैंडअलोन मुनाफा 106.2 करोड़ रुपये रहा है। वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में कंपनी को 499.9 करोड़ रुपये का स्टैंडअलोन घाटा हुआ था।

वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में टाटा मोटर्स की स्टैंडअलोन आय 3.2 फीसदी घटकर 18,561.4 करोड़ रुपये पर रहा है जबकि वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में कंपनी की स्टैंडअलोन आय 19,173.5 करोड़ रुपये रहा था।

सालाना आधार पर वित्त वर्ष 2019 की चौथी तिमाही में टाटा मोटर्स की स्टैंडअलोन एबिटडा 507.9  करोड़ रुपये से बढ़कर 1,189.1 करोड़ रुपये रहा है। साल दर साल आधार पर चौथी तिमाही में कंपनी की स्टैंडअलोन एबिटडा मार्जिन 2.6 फीसदी से बढ़कर 6.4 फीसदी पर रही है।

चौथी तिमाही में जेएलआर की आय 7,134 करोड़ यूरो रही है। चौथी तिमाही में जेएलआर की आय 7,117 करोड़ यूरो रहने का अनुमान था। चौथी तिमाही में जेएलआर का एबिटडा मार्जिन 9.8 फीसदी रहा है।

टाटा मोटर्स ने चौथी तिमाही में अच्छे नतीजे पेश किए हैं। हालांकि, ऑटो सेक्टर में सुस्ती कंपनी के लिए चिंता का सबब है। कंपनी के पैसेंजर व्हीकल के प्रेसिडेंट मयंक पारिख ने कहा कि लिक्विडिटी की कमी और चुनावी अनिश्चितता के कारण बिक्री में कमी आई है।

मयंक पारिख ने आगे कहा कि नई सरकार के गठन के बाद ऑटो सेक्टर में सुधार दिखेगा और बिक्री बढ़ेगी। 

« पिछला अगला   »
बड़ी खबरें»
ED के निशाने पर NCP लीडर प्रफुल्ल पटेल, दाऊद के सहयोगी के साथ मनीलॉन्ड्रिंग का आरोप
बाजार ने लगाई तेजी की हैट्रिक, सेंसेक्स 290 अंक चढ़कर बंद
16 कंपनियों में बंद हो सकती है ट्रेडिंग, कंपनी की गलती की भरपाई क्यों करें निवेशक!
Ayodhya Land Case Verdict: SC ने डेडलाइन कम की, बुधवार तक खत्म करनी होगी सुनवाई
TV18 Broadcast और Network18 के नतीजे जारी, जानिए Q2 में कैसा रहा प्रदर्शन